• 04:18 Jun 22, 2021

Advertisement

By: विबेक दुबे, The Mobile Indian, New DelhiLast updated November 29, 2018 6:08 pm

आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) रिव्यू: खरीदने के लिए बेस्ट ऑप्शन!

आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) रिव्यू: खरीदने के लिए बेस्ट ऑप्शन!

impressive

इसमें 5.99 इंच का फुल HD प्लस फुलव्यू डिस्प्ले है जिसका स्क्रीन रेज्योलेशन 2160 x 1080 पिक्सल्स है। इसके साथ ही क्वालकोम स्नैपड्रैगन 636 प्रोसेसर, एड्रिनो 509 GPU, 4GB/4GB रैम और 32GB/64GB की इंटरनल स्टोरेज सुविधा है। ये स्मार्टफोन एंड्रॉयड 8.1 ओरियो ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित है।

Pros

  • डिस्प्ले
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी

Cons

  • डिजाइन
  • फ्रंट कैमरा

आसूस ने काफी समय बाद भारत में हाल ही में अपना नया स्मार्टफोन जेनफोन मैक्स प्रो (M1) लॉन्च किया है। कंपनी ने जेनफोन मैक्स प्रो (M1) को दो वेरिएंट्स के साथ पेश किया है जिसमें 3GB रैम + 32GB स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 10,999 और 4GB + 64GB वेरिएंट की कीमत दो हजार ज्यादा 12,999 रूपए है। यह स्मार्टफोन बिक्री के लिए 3 मई से एक्सक्लूजिव रूप से फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध होगा।

 

आसूस के इस स्मार्टफोन में वो सभी फीचर्स हैं जो ग्राहक इस प्राइस रेंज में किसी स्मार्टफोन में पसंद करते हैं। चाहे डिस्प्ले की बात हो या बैटरी की या फिर पावरफुल प्रोसेसर की, जेनफोन मैक्स प्रो (M1) में वो सभी फीचर्स मिल जाते हैं जो एक ग्राहक कम कीमत में दमदार परफॉर्मेंस वाले स्मार्टफोन में चाहता है। इस वक्त, शाओमी और ऑनर जैसे ब्रांड बजट सेगमेंट में आगे नजर आ रहे हैं, वहीं अब आसूस इस स्मार्टफोन के साथ इन्हें चैलेंज करने के लिए तैयार है। लेकिन क्या ये सफल होगा? चलिए जानते हैं...

 

स्टैंडर्ड डिजाइन, बेहतर डिस्प्ले

 

Zenfone Max Pro M1

 

सबसे पहले बात करते हैं इस स्मार्टफोन के डिजाइन की तो, आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) पहली बार में देखने में आपको वर्तमान समय में बाजार में मौजूद स्मार्टफोन्स से कुछ खास अलग नहीं दिखता। मगर आसूस के पुराने स्मार्टफोन्स की तुलना में कंपनी ने इसमें कई बदलाव किए हैं। जैसे कि मैटल यूनिबॉडी डिजाइन के साथ फ्रंट पर 2.5D कर्व्ड ग्लास दिया गया है जिससे कि यह एक प्रीमियम लुक में नजर आता है। पीछे डुअल रियर कैमरा सैटअप का डिजाइन भी अच्छा है जोकि प्रीमियम फील देता है। हालांकि मैटल बॉडी डिजाइन के साथ होने से ये थोड़ा-सा फिसलता है तो यूजर्स को इस बात का ध्यान रखना होगा।

 

आसूस ने डिस्प्ले के मामले में शानदार काम किया है। इस स्मार्टफोन में 5.99 इंच का फुल HD प्लस डिस्प्ले है जिसका स्क्रीन रेज्योलेशन 2160 x 1080 पिक्सल है और स्क्रीन असपैक्ट रेशियो 18:9 है। डिस्प्ले में 85 प्रतिशत NTSC कलर garmut और 1500:1 कॉन्ट्रास्ट रेशियो के साथ इसका ब्राइटनेस लेवल 450 nits है। इसमें कलर्स देखने में बैलेंस्ड और असली नजर आते हैं। इसके डिस्प्ले का व्यूविंग एंगल अच्छा है। थोड़ी कमी हमें ये लगी कि डिस्प्ले थोड़ा रिफ्लेक्ट करता है और इसमें ब्राइटनेस लेवल को पूरा कम करने पर आउटडोर में डिस्प्ले देखना मुश्किल हो जाता है। इसलिए आउटडोर में इसमें ब्राइटनेस को थोड़ा बढ़ाकर ही रखना होगा।

 

Zenfone Max Pro M1

 

कुल मिलाकर इसके डिस्प्ले ने एनिमेशन मूवी देखने या गेम खेलने के दौरान किसी तरह से निराश नहीं किया और डिस्प्ले का आउटपुट परफेक्ट था। कंपनी ने इसमें 'नाइट लाइट' ऑप्शन भी दिया है, जिससे कि यूजर्स रात में आसानी से डिस्प्ले देख पाएं और कुछ पढ़ना हो तो पढ़ पाएं।

 

शानदार परफॉर्मेंस
आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) में ऑक्टा-कोर क्वालकोम स्नैपड्रैगन 636 प्रोसेसर और एड्रिनो 509 GPU है जोकि शाओमी के रेडमी नोट 5 प्रो में भी मिलता है। इस डिवाइस में आपको 3GB/4GB रैम और 32GB/64GB इंटरनल स्टोरेज मिलता है। रिव्यू के दौरान इसके परफॉर्मेंस ने हमें प्रभावित किया। इस स्मार्टफोन ने डेली के टास्क हो या मल्टी टास्किंग काम हो, अच्छा परफॉर्मेंस दिया। जेनफोन मैक्स प्रो (M1) में हमने करीब 700MB का हाई ग्राफिक्स वाला गेम PUBG Mobile खेलकर देखा। ग्राफिक लेवल हाई करने के बाद भी गेम बिना किसी समस्या के आसानी से चला। डिस्प्ले का ग्राफिक आउटपुट भी बेहतर था। इस गेम को एक घंटे खेलने के बाद भी इसमें ओवरहीटिंग की समस्या नहीं हुई। जिसका मतलब स्मार्टफोन में गेम खेलने वाले यूजर्स इससे निराश नहीं होंगे।

 

Zenfone Max Pro M1

 

बेहतर परफॉर्मेंस के साथ 5000mAh की बैटरी देकर आसूस ने अच्छा काम किया है। सामान्य यूज में स्मार्टफोन की बैटरी डेढ़ दिन तक चलती है और गेम खेलने के साथ ज्यादा यूज करने पर इसकी बैटरी लगभग पूरे दिन चल जाती है। इसकी बैटरी फास्ट चार्जिंग खूबी के साथ है। डिवाइस 0 से 100 प्रतिशत चार्ज होने में करीब 2 घंटे का समय लेता है। साउंड क्वालिटी की बात करें तो इस स्मार्टफोन में मैक्स बॉक्स स्पीकर है जिसके लिए कंपनी का दावा है कि ये ऑडियो एक्सपीरियंस को बेहतर बनाती है। हमारी टेस्टिंग में प्राइस रेंज के हिसाब से साउंड क्वालिटी ठीक था। इस स्मार्टफोन में ट्रिपल सिम स्लॉट है जिससे कि आप इसमें दो सिम और एक माइक्रोएसडी कार्ड लगा सकते हैं। माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए इंटरनल स्टोरेज को 2TB तक बढ़ाया जा सकता है।

 

सॉफ्टवेयर के मामले में भी आगे

 

Zenfone Max Pro M1

 

कंपनी ने इस बार ZenUI को लगभग पूरी तरह से बदला है जो स्टॉक एंड्रॉयड के करीब एक्सपीरियंस देता है। कंपनी ने कहा है कि ये आसूस का पहला स्मार्टफोन है जिसमें नियर स्टॉक एंड्रॉयड की खूबी दी जा रही है। यह स्मार्टफोन लेटेस्ट एंड्रॉयड 8.1 ओरियो ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलता है। इस स्मार्टफोन का यूजर इंटरफेस आसूस के पहले के ZenUI (यूजर इंटरफेस) से अच्छा है। इसे आसानी से यूज किया जा सकता है। नीचे से स्वाइप अप करने पर सभी एप्स आपको दिखेंगे और ऊपर से स्वाइप डाउन करने पर नोटिफिकेशन दिखेंगे। इस स्मार्टफोन के इस्तेमाल के दौरान सॉफ्टवेयर में हमें किसी प्रकार की समस्या नहीं हुई। कंपनी ने वादा किया है कि इस स्मार्टफोन में समय-समय पर अपडेट देती रहेगी। सेल शुरू होने से पहले कंपनी ने इसमें फेस अनलॉक फीचर भी जारी कर दिया है।

 

कैमरा ने लगभग अच्छा काम किया

आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) में डुअल रियर कैमरा सैटअप दिया गया है जिसमें कि प्राइमरी सेंसर 13 मेगापिक्सल का है जो f/2.2 अपर्चर, 80 डिग्री व्यू एंगल और PDAF आदि के साथ हैं। वहीं इसका सेकेंडरी सेंसर 5 मेगापिक्सल का है जोकि बॉकै इफैक्ट फीचर के साथ है। बेहतर लाइटिंग कंडिशन में रियर कैमरा का कैमरा परफॉर्मेंस अच्छा था। यहां आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) का कैमरा सैपल्स देखिए।

 

Zenfone Max Pro M1

 

रियर कैमरा से क्लिक की गई तस्वीरों में कलर्स काफी नैचुरल नजर आते हैं और बेहतर लाइटिंग की परिस्थितियों में अच्छी-खासी डिटेलिंग भी मिलती है। हालांकि माइक्रो शॉट्स के दौरान कैमरा को सब्जैक्ट पर फोकस करने में समस्या हुई जिसकी वजह तस्वीरें थोड़ी ब्लर आई। वहीं, डुअल रियर कैमरा से बॉकै इफैक्ट में ली गई तस्वीरों ने मिक्स रिजल्ट दिया। कभी -कभी सब्जैक्ट हाइलाइट था और बैकग्राउंड अच्छे से ब्लर था जबकि कई बार बैकग्राउंड के साथ-साथ सब्जैक्ट के किनारे भी थोड़े ब्लर हो गए।

 

इसके कैमरा का लो लाइट परफॉर्मेंस औसत से थोड़ा अच्छा था। वहीं, रात के समय फ्लैश लाइट के साथ ली गई तस्वीरों ने हमें प्रभावित किया। फ्रंट कैमरा की बात करें तो यहां कंपनी को थोड़ा काम करना चाहिए था। डेलाइट में ली गई सेल्फी अच्छी थी। इसमें फ्रंट कैमरा में भी बॉकै इफैक्ट है जो औसत है। लेकिन इनडोर और लो-लाइट कंडिशन में ली गई सेल्फी की क्वालिटी अच्छी नहीं थी। सेल्फी प्रेमी थोड़े निराश हो सकते हैं।

Verdict

कुल मिलाकर बात करें तो आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) इस प्राइस रेंज में स्पेसिफिकेशंस और परफॉर्मेंस के मुताबिक एक बेहतरीन स्मार्टफोन है। आसूस के 4GB रैम वेरिएंट की कीमत 12,999 रूपए है वहीं शाओमी रेडमी नोट 5 प्रो (4GB) की कीमत इससे 2000 रूपए ज्यादा 14,999 रूपए है। जेनफोन मैक्स प्रो (M1) में स्टॉक एंड्रॉयड एक्सपीरियंस इसे बेहतर बनाता है। तो देखा जाए तो इस स्मार्टफोन में वो सभी क्वालिटीज हैं जो इसे अगला चैंपियन बना सकती हैं।

You might like this



Tags: आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) रिव्यू जेनफोन मैक्स प्रो (M1) रिव्यू आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) लॉन्च आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) फीचर्स आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) स्पेसिफिकेशंस आसूस जेनफोन मैक्स प्रो (M1) प्राइस जेनफोन मैक्स प्रो (M1)

Advertisement

 

Latest Reviews

Other Reviews