• 05:24 Feb 25, 2020

Advertisement

By: TMI नेटवर्क, The Mobile Indian, New DelhiLast updated : April 25, 2017 3:21 pm

केवल 10 प्रतिशत भारतीयों को ही पसंद है टेलीविजन पर शोज देखना: सर्वे

टेलीकॉम ऑपरेटर्स द्वारा जब से भारत में यूजर्स को कम से कम दाम या मुफ्त में ही डाटा देने की सुविधा जो शुरू हुई है, उसने कई अन्य संबंधी क्षेत्रों को भी अपने साथ प्रभावित किया है। हाल ही में एक सर्वे से पता चला है कि केवल 10 प्रतिशत भारतीयों को ही टीवी शोज अब अपने टेलीविजन सैट्स पर देखना पसंद है।

 

दरअसल एसेंचर द्वारा किए गए सर्वे 'विंनिंग एक्सपीरियंस इन द न्यू वीडियो वर्ल्ड' से इस बात का पता चला है कि पिछले एक साल में टेलीविजन पर शोज देखने वाले लोगों की संख्या में कितनी भारी कमी हुई है। भारत में टीवी शोज को टेलीविजन सैट्स पर देखने वाले लोगों का आंकड़ा 78 प्रतिशत तक नीचे गिर गया है। यानी 2015-16 के समय ये आंकड़ा 47 प्रतिशत पर था और अब 2016-17 में ये केवल 10 प्रतिशत ही रह गया है। वहीं अमेरिका में 57प्रतिशत की गिरावट आई है, जोकि संख्या 59 प्रतिशत से केवल 25 प्रतिशत ही रह गई है। इसके अलावा यूके में 55 प्रतिशत की कमी आई है, जिसमें 56 प्रतिशत से 25 प्रतिशत की संख्या ही अब बाकी है। यानी सबसे अधिक कमी भारत में ही देखी गई है।

 

बता दें कि ये परिणाम 26 देशों में 26,000 ग्राहकों के साथ किए ग्लोबल ऑनलाइन सर्वे से पता चला है, जिसमें 1000 भारतीय शामिल थे। जिनके अनुसार अब टीवी शोज को बजाय टीवी पर देखने के अधिकतर लोग लैपटॉप, पर्सनल कंप्यूटर्स या स्मार्टफोन्स पर देखना अधिक पसंद करते हैं। यहां 10 में से 4 से भी अधिक(लगभग 42 प्रतिशत) लोगों का यही कहना था कि कि वे टीवी शोज अपने लैपटॉप या डैस्कटॉप पर ही देखते हैं। वहीं 13 प्रतिशत लोगों का कहना है कि वे टीवी शोज बजाय किसी और माध्यम के अपने स्मार्टफोन पर देखना अधिक पसंद करते हैं। जबकि पिछले साल यही संख्या केवल 10 प्रतिशत थी।

 

इस बारे में एसेंचर के कम्युनिकेशन, मीडिया और टेक्नॉलॉजी ग्रुप के लीड व मैनेजिंग डायरेक्टर आदित्य चौधरी का कहना है कि ''पिछले एक साल के समय में अंतर्राष्ट्रीय व भारतीय मीडिया एंटरटेनमेंट कंपनियों द्वारा कई नई सेवाओं व सुविधाओं की शुरूआत की गई है। यहां इंटरनेट का अधिकतर प्रयोग केवल मोबाइल के माध्यम से ही होता है, जिसमें वाई-फाई और ब्रॉडबैंड आदि सेवाओं की भी अहम भूमिका शामिल है।''

You might like this



Tags: डिजिटल टीवी मोबाइल टीवी शोज

Advertisement

You might like this