• 18:05 Feb 19, 2020

Advertisement

By: पूनम शंकर, The Mobile Indian, New DelhiLast updated : May 02, 2017 2:20 pm

इन गर्मियों में एयर कंडीशनर खरीदते समय ध्यान में जरूर रखें ये टॉप 5 बातें

भारत की एयर कंडीशनर मार्केट जो पिछले समय में काफी तेजी से बढ़ रही है, उसमें आगे और भी कई बदलाव देखे जाएंगे। उम्मीद की जा रही है कि 2020 तक ये बाजार दोगुना बढ़ जाएगा और इसके 10 मिलियन यूनिट्स से भी अधिक के बिकने तक की संभावना जताई जा रही है। गर्मियों के समय में AC लगभग हर घर की जरूरत सी बन जाते हैं, ऐसे में यदि आप भी इन गर्मियों में AC खरीदने का विचार कर रहे हैं तो हम आपको ऐसी पांच बातें बनाने वाले हैं, जिन्हें ध्यान में रखते हुए आपके लिए इन्हें खरीदना न केवल आसान और भविष्य के लिए भी फायदेमंद साबित होगा।

 

 

विंडो AC की जगह करें स्पिलिट एसी का चुनाव

 

विंडो ACs का देशभर में चलन अब देश में लगभग खत्म सा हो रहा है। जैसे हर चीज बेहतरी की ओर बढ़ती है, वैसे ही एसीज भी अपग्रेड हो गए हैं। इतना ही नहीं सैमसंग जैसे ब्रांड्स ने तो अब विंडो ACs को बनाना ही बंद कर दिया है। वहीं अगर आपके पास जगह की समस्या है तो आपको विंडो AC को बिल्कुल भी चुनना नहीं चाहिए। स्पिलिट AC आपके छोटे कमरे या घर के हिसाब से आपको मिल जाएंगे, जोकि आसानी से कहीं भी समा जाते हैं।

 

 

इंवर्टर टेक्नॉलॉजी

 

ये कहना गलत नहीं होगा कि इस बात की पूरी संभावना है कि 2020 तक हर जगह इनवर्टर टेक्नॉलॉजी का ही प्रयोग किया जाएगा। पावर सेविंग्स और किफायती चीजों को हर कोई अपनाना चाहता है तो आप भी उन पुरानी तकनीक वाले विंडो Acs को भूलकर स्पिल्टि AC से 30 से 50 प्रतिशत तक बिजली की बचत कर सकते हैं। इंवर्टर Acs अधिकतर ज्यादा एनर्जी स्टार रेटिंग के साथ मिलते हैं यानी ये बाकी Acs से अधिक किफायती होते हैं। इसे आसान शब्दों में आप ऐसे भी समझ सकते हैं कि अगर आप एसी का प्रयोग यदि सालभर में 5 महीनों से अधिक करने वाले हैं तो आपके लिए 5 स्टार AC खरीदना ही सही लॉन्ग टर्म इंवेस्टमेंट साबित होगा।

 

रूम साइज और पोजिशन

 

कमरे के साइज के हिसाब से उतने ही टन की क्षमता वाला AC लेना सही होता है, जैसे कि 120 sq फीट जगह के हिसाब से 1 टन की क्षमता का AC सही कहा जाता है। वहीं यदि कमरे या एसी की पोजीशन सीधा सूरज से कॉन्टेक्ट में है तो इस बात को भी ध्यान में जरूर रखें। 1 टन की क्षमता वाले AC या छोटे AC खरीदने से भी बचें। इनकी ड्यूरेबिलिटी बहुत अधिक नहीं होती और ये ज्यादा बदलावों को झेल नहीं पाते। ये कहना गलत नहीं होगा कि दिल्ली जैसी गर्मी को ध्यान में रखते हुए तो इन्हें बिल्कुल ही न ही खरीदें।

 

 

नॉन-AC फीचर्स

 

वो दिन गए जब AC केवल कमरे को ठंडा किया करते थे। आजकल कंपनियां ACs में कई खास और मजेदार फीचर्स को जोड़ रही हैं, जो न केवल कमरे को ठंडा रखते हैं, बल्कि कमरे की हवा को साफ रखते हैं। इसके अलावा कई Acs के साथ आपको कीड़े-मकौड़ों आदि को भी कमरे से दूर रखने की सुविधा मिल जाएगी। यदि आपको धूल-धुएं से परेशानी रहती है तो ये AC आपके लिए बेस्ट ऑप्शन साबित हो सकते हैं।

 

 

आफ्टर सेल सर्विसेज

 

ये आखिरी बात और सबसे जरूरी बात की नया AC खरीदने से पहले एक बात जरूर पता करें कि उस ब्रांड या कंपनी की ऑफ्टर सेल्स सर्विसेज कैसी हैं। ये कहना गलत नहीं होगा कि ACs के मामले में बेहतर सर्विसेज देने वाली कंपनी का ही केवल चुनाव किया जाना चाहिए। कई बड़ी कंपनियां अपने Acs की खरीदी पर सर्विस वॉरंटीज आदि देती हैं, इस बात का भी जरूर ध्यान रखें। LG, सैमसंग, वॉल्टाज और लॉयड जैसी कंपनियां पर इस मामले में भरोसा किय़ा जा सकता है। आफ्टर सेल सर्विसेज के लिए ये काफी बड़ा व मजबूत नेटवर्क बना चुकी हैं। वहीं माइक्रोमैक्स, कोरयो जैसे कई ब्रांड्स हैं जो अभी भी अपनी सर्विस नेटवर्क आदि को सुधार रहे हैं। 

You might like this



Tags: एलजी सैमसंग एयरकंडीशनर्स मार्केट इन इंडिया लॉयड इनवर्टर टेक्नॉलॉजी स्पिलिट एसी

Advertisement

You might like this